KYC Full Form in Hindi – KYC Kya Hota Hai

What is kyc full form here? What is the use of kyc? What is kyc full form in hindi. Why is pm kisan kyc necessary? what is kyc

KYC क्या होता है ! अगर आपने कभी भी बैंक में अपना खता खोलवाया होगा या बैंक से लोन लिया होगा तो KYC का नाम जरूर सुना होगा, KYC -आजकल हम सभी लोग आने वाले समय के जरूरत के हिसाब से धन बचा कर बैंक में जमा करते हैं और जरूरत के मुताबिक  बैंक से लोने भी लेते हैं ! लोने लेते समय KYC की जरूरत बैंक को पड़ती है ! आगे हम जानेंगे कि KYC क्या है और इसका क्या महत्त्व है !

 KYC Full Form in Hindi – KYC Kya Hai

KYC Full Form in Hindi - KYC Kya Hota Hai

  

KYC Full Form क्या होता है ?

 

KYC Full Form -Know Your Customer  

 

KYC का फुल फॉर्म Know Your Customer होता है। केवाईसी को हिंदी में अपने ग्राहक को जानें कहते है।

What does Know Your Customer (KYC Full Form) Mean? KYC का मतलब क्या होता है ?

KYC का पूरा नाम Know Your Customer है, जिसको हम हिंदी में ग्राहक को जानों मतलब आपका ग्राहक सही है, जिसका Address पूरा होना चाहिए और सही भी होना चाहिए, जिसका ONLINE VERIFICATION भी होता है , तब जाकर हमारा KYC Complete होता है। बैंक में खाता खोलने के साथ साथ एक Form जो हमें बैंक में भरना होता है ! इसमें बैंक आपके बारे में पूरी जानकारी रखने के लिये कुछ Document लेती है ! नहीं तो कभी कभी किस की वजह से आपका खता STOP भी कर दिया जाता है। इसलिए KYC FORM COMPLITE जमा करना बहुत ही जरुरी है। 

👉👉👉 NOC Full Form in Hindi

 What does KYC Document Take! KYC Document क्या लेती है !

ADHAAR CARD 

 PAN CARD 

 VOTER CARD 

 PASSPORT 

 NAREGA CARD 

 DRIVING LICENSE  

जैसे -आपका नाम, निवास स्थान क्या है इत्यादि  ! 

What is e-KYC? ई-केवाईसी क्या है ?

KYC की शुरुआत सबसे पहले RBI बैंक कंपनी के द्वारा शुरू की गयी ! कोई धोखा या गलत काम न हो सके, इसलिए आधार कार्ड हो, या Driving License हो या पैन कार्ड हो या पासपोर्ट हो इत्यादि कोई भी एक Document बैंक हमसे Security  के लिए मांगती है !  KYC कई प्रकार की होती है ! 

 CKYC – Central  Know Your Customer 

 EKYC – Electronic Know Your Customer  

1. CKYC – इसे हम Central  Know Your Customer  के नाम से जानते हैं ! यह भारत के सभी बैंको द्वारा लागू है ! लेकिन यह केंद्रीय स्तर के अन्तर्गत आता है ! जिसे हम Central KYC के नाम से जानते हैं ! KYC कराने में आपको ज्यादा समय नहीं लगता है ! यह आप बैंक जाकर 1 दिन में करा सकते हैं ! लेकिन Verify होने में एक सप्ताह लग जाता है !

2. EKYC -इसे हम Electronic Know Your Customer के नाम से जानते हैं ! यह कस्टमर की KYC जानने का Digital तरीका है ! इसमें आपको कोई भी Document बैंक को देने की जरूरत नहीं है ! इसमें आपको अपना अंगूठे का फिंगर प्रिंट देना होता है ! यह एक बायोमेट्रिक तरीका है ! जिसमे आपके बारे में पूरी जानकारी होती है ! यह इलेक्ट्रॉनिक तरीके से प्रमाणित करता है !

हर बैंको में KYC की सुविधा उपलब्ध है ! बस आपको आधार या पैन कार्ड की फोटो कॉपी देनी होगी ! और साथ KYC का पूरा फॉर्म भरना होगा, जो आपके अकाउंट में अटैच हो जायेगी !

👉👉👉TRP Full Form in Hindi

Why is KYC Necessary in The Bank? बैंक में केवाईसी क्यों जरूरी है?

• Know Your Customer (KYC Full Form ) एक ऐसी प्रक्रिया है जो बैंकों और वित्तीय संस्थानों को अपने ग्राहकों की पहचान सत्यापित करने और मनी लॉन्ड्रिंग या आतंकवाद के वित्तपोषण के लिए उनके संभावित जोखिमों का आकलन करने में सक्षम बनाती है।

• यह प्रक्रिया बैंकों के लिए महत्वपूर्ण है क्योंकि यह उन्हें उन कानूनों और विनियमों का पालन करने में मदद करती है जिनके लिए उन्हें वित्तीय अपराध के जोखिमों की पहचान करने और उन्हें कम करने की आवश्यकता होती है।

• इन आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए, बैंकों और वित्तीय संस्थानों को अपने ग्राहकों के बारे में कुछ जानकारी एकत्र करनी चाहिए, जिसमें उनका नाम, पता और पहचान दस्तावेज शामिल हैं।

• इस जानकारी का उपयोग ग्राहक की पहचान की पुष्टि करने और यह सुनिश्चित करने के लिए किया जाता है कि बैंक को ग्राहक की वित्तीय गतिविधियों और संभावित जोखिमों की पूरी समझ है।

• Know Your Customer (KYC Full Form) बैंकों के लिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि यह उन्हें अपने जोखिम का प्रबंधन करने और संभावित कानूनी और प्रतिष्ठित क्षति से खुद को बचाने में मदद करता है।

• केवाईसी प्रक्रियाओं का पालन करके, बैंक अपने ग्राहकों और उन्हें सेवा देने से जुड़े जोखिमों को बेहतर ढंग से समझ सकते हैं और उन जोखिमों को कम करने के लिए उचित उपाय कर सकते हैं।

• इसमें धन के स्रोत की पुष्टि करना, संदिग्ध गतिविधि के लिए लेनदेन की निगरानी करना और उच्च जोखिम वाले ग्राहकों पर अतिरिक्त सावधानी बरतना शामिल हो सकता है।

• Know Your Customer (KYC Full Form) बैंकिंग प्रक्रिया का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है और यह सुनिश्चित करने में मदद करता है कि वित्तीय अपराध को रोकने के लिए बनाए गए कानूनों और विनियमों का पालन करते हुए बैंक सुरक्षित और प्रभावी ढंग से काम करने में सक्षम हैं।

CRPF Full Form ICU Full Form
EWS Full Form ICT Full Form

What are The Documents Required to Submit Know Your Customer (KYC Full Form)? KYC जमा करने के लिए किन दस्तावेजों की आवश्यकता है?

बैंक या वित्तीय संस्थान के विशिष्ट नियमों और आवश्यकताओं के साथ-साथ पेश किए जा रहे खाते या उत्पाद के प्रकार के आधार पर, Know Your Customer (KYC Full Form) प्रक्रिया के लिए विभिन्न दस्तावेजों की आवश्यकता हो सकती है।

Some of the common documents required for Know Your Customer (KYC Full Form) purposes include? KYC के उद्देश्यों के लिए आवश्यक कुछ सामान्य दस्तावेजों में शामिल हैं?

सरकार द्वारा जारी किए गए पहचान दस्तावेज़, जैसे:-

• पासपोर्ट, राष्ट्रीय आईडी कार्ड या ड्राइविंग लाइसेंस

• पते का प्रमाण जैसे:- यूटिलिटी बिल या बैंक स्टेटमेंट

• जन्म प्रमाण पत्र या जन्म तिथि का अन्य प्रमाण

• कर पहचान संख्या या सामाजिक सुरक्षा संख्या

• रोजगार या आय सत्यापन दस्तावेज

• व्यवसाय पंजीकरण दस्तावेज़ (यदि लागू हो)

यह नोट करना महत्वपूर्ण है कि केवाईसी उद्देश्यों के लिए आवश्यक विशिष्ट दस्तावेज उस देश या क्षेत्र के आधार पर भिन्न हो सकते हैं जिसमें आप स्थित हैं, साथ ही बैंक या वित्तीय संस्थान के विशिष्ट नियम और आवश्यकताएं।

कुछ मामलों में, उच्च जोखिम वाले ग्राहकों या कुछ प्रकार के खातों या उत्पादों के लिए अतिरिक्त दस्तावेज़ या जानकारी की आवश्यकता हो सकती है।

उदाहरण के लिए, एक बैंक व्यवसाय खाते के लिए धन के स्रोत को सत्यापित करने के लिए या मनी लॉन्ड्रिंग या आतंकवाद के वित्तपोषण के जोखिम का आकलन करने के लिए अतिरिक्त दस्तावेज या जानकारी का अनुरोध कर सकता है।

कुल मिलाकर, केवाईसी प्रक्रिया का उद्देश्य ग्राहक की पहचान की पुष्टि करना और उस ग्राहक को वित्तीय सेवाओं की पेशकश से जुड़े संभावित जोखिमों का आकलन करना है।

आवश्यक दस्तावेज और जानकारी एकत्र और सत्यापित करके, बैंक और वित्तीय संस्थान अपने ग्राहकों को बेहतर ढंग से समझ सकते हैं और उन्हें सेवा देने से जुड़े जोखिमों का प्रबंधन कर सकते हैं।

What is PM Kisan KYC? पीएम किसान केवाईसी क्या है?

PM Kisan भारत में एक सरकारी योजना है जो छोटे और सीमांत किसानों को वित्तीय सहायता प्रदान करती है। पीएम किसान योजना के तहत, पात्र किसानों को तीन समान किस्तों में INR 6,000 की वार्षिक वित्तीय सहायता प्राप्त होती है।

PM Kisan योजना के पात्र होने के लिए, किसानों को कुछ मानदंडों को पूरा करना होगा, जिसमें 2 हेक्टेयर से कम भूमि का मालिक होना और योजना के साथ पंजीकृत होना शामिल है।

किसान पीएम किसान योजना के लिए पीएम किसान पोर्टल के माध्यम से या कॉमन सर्विस सेंटर पर जाकर पंजीकरण करा सकते हैं।

Know Your Customer (KYC Full Form) एक ऐसी प्रक्रिया है जो बैंकों और वित्तीय संस्थानों को अपने ग्राहकों की पहचान सत्यापित करने और मनी लॉन्ड्रिंग या आतंकवाद के वित्तपोषण के लिए उनके संभावित जोखिमों का आकलन करने में सक्षम बनाती है।

यह सीधे तौर पर पीएम किसान योजना से संबंधित नहीं है, लेकिन यह संभव है कि योजना द्वारा प्रदान की जाने वाली वित्तीय सहायता प्राप्त करने के लिए किसानों को केवाईसी प्रक्रियाओं को पूरा करने की आवश्यकता हो सकती है।

इसमें उनकी पहचान की पुष्टि करने और योजना के लिए उनकी पात्रता को सत्यापित करने के लिए पहचान दस्तावेज और पते के प्रमाण जैसे कुछ दस्तावेज जमा करना शामिल हो सकता है।

इस पोस्ट के द्वारा मैने आपको पूरी जानकारी दे दी है ! अब आपको पता लग गया होगा कि KYC क्या है ! हमारा यह फ़र्ज़ बनता है कि हम आपको तक सही जानकारी इस माध्यम से आप तक पहुँचाये !

 

%d bloggers like this: