BPO Full Form in Hindi / BPO Ka Full Form

BPO Full Form in Hindi - क्या होता है ?

BPO Full Form in Hindi / BPO Ka Full Form



BPO Full Form क्या होता है।


 BPO Full Form

 Business Process Outsourcing


साधारण भाषा में समझे तो Call Center, किसी COMPANY के SERVICE को किसी दूसरे कंपनी के द्वारा प्रोमोशन करवाना। या उस कंपनी के प्रोडक्ट के बारे में बताना, आज के समय में BPO Outsourcing के द्वारा BPO Industry बन चूका है। छोटे छोटे BPO Center मिलकर BPO Companies का रूप ले लिया है।  BPO, अब तो Global BPO का रूप ले चूका है। 

BPO Full Form in Hindi / BPO Ka Full Form




BPO का फुल फॉर्म Business Process Outsourcing होता है। बीपीओ को हिंदी में बिजनेस प्रोसेस आउटसोर्सिंग होता है। ऐसी प्रक्रिया इसमें  व्यापार करने वाला किसी दूसरी कंपनी को काम पूरा करने को देता है ! जैसी वह अधिक काम पूरा कर सके ! जिसको इन काम की पूरी जानकारी प्राप्त हो। और कम समय में ज्यादा काम करे। और कंपनी की काम में मदद करते हैं ! या ये कहेगे कि जब कोई कंपनी किसी Product को बनाने के लिए दूसरी कंपनी की सहायता लेकर वह Product पूरा करती है !उसे Business Process Outsourcing कह सकते हैं ! 
इसे हम तीन भागों में बाँट सकते हैं ! 

BPO Full Form -Business Process Outsourcing

 Onshore Outsourcing (BPO Full Form) :-

जब एक कम्पनी अपनी ही देश की दूसरी कम्पनी की मदद से काम को पूरा करने में सहायक होती है ! उसे Onshare Outsourcing कहा जाता है !

 OFFshare Outsourcing (BPO Full Form) :-

जब एक कंपनी दूसरे देश की कंपनी की मदद से काम को पूरा करने में सहायक होती है ! उसे Off Share Outsourcing कहा जाता है !

 Nearshare  Outsourcing (BPO Full Form) :-

जब एक कंपनी अपनी सर्विस को दूसरी कंपनी की मदद करने के लिये सहायता प्रदान करती है ! उसे Near Share Outsourcing कहा जाता है ! 


BPO का काम इसलिए अच्छा है क्योकि यह Online और Offline दोनों तरीको से मदद करता है ! जबकि Call Center  केवल Online ही मदद करता है ! 

 BPO अपने कारोबार को बढ़ाने के लिए सही तरीके बताकर काम करता है ! जबकि Call Center  केवल प्रचार करने के लिये काम करता है ! 

 BPO केवल English medium से Computer की जानकारी होने पर जॉब देता है !लेकिन Call Center कोई भी भाषा की जानकारी होने पर जॉब देता है ! 

 BPO में अलग-अलग काम के अलग-अलग  Department बने हैं ! जबकि Call Center में केवल calling के ही Department है ! 

 BPO जॉब में एक नुक्सान यह है कि ग्राहक कहते कुछ और हैं और कर्मचारी कुछ और सुनते है ! इसलिए गलतफहमी ज्यादा होती है ! 

 इसमें कर्मचारी की जॉब टाइमिंग Fixed नहीं होती कभी कभी तो दिन और रात दोनों Shift में काम करना पड़ता है !

कुछ लोग तो कहते हैं कि Call Center और BPO एक ही हैं ! लेकिन यह एक नहीं हैं !इनका काम लगभग Same है ! लेकिन काम करने का तरीका अलग है ! 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ