IQ Full Form in Hindi | IQ का फुल फॉर्म क्या होता है?

What is IQ Full Form. In this post we will understand what is IQ. How to check IQ.

 

What is IQ Full Form? IQ Full Form क्या होता है ?

 

IQ Full Form Intelligence-Quotient

IQ का फुल फॉर्म – Intelligence Quotient होता है ! IQ को हिंदी में बुद्धि लब्धि कहते है।

IQ (IQ Full Form) शब्द का अविष्कार जर्मन के वैज्ञानिक साइकोलोजिस्ट विलियम स्टर्न ने 1912 में किया था ! IQ बताता है कि आपके सोचने और समझने की क्षमता कितनी है।

यह जानकारी आपको देता है ! IQ किसी भी समस्या को क्षणों में हल कर सकता है ! IQ की मदद से आप कम पढाई करके भी अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं !और अच्छे अंक ला सकते हैं !

IQ Full Form in Hindi | IQ का फुल फॉर्म क्या होता है?

What is IQ Full Form? IQ क्या है ?

IQ (IQ Full Form) किसी भी व्यक्ति की मानसिक आयु को विभाजित करके व्यक्ति की कालानुक्रमिक आयु और बुद्धि परीक्षण को प्रशासित करके प्राप्त होता है ! IQ स्कोर बनाने के लिए परिणामी अंश के भागफल को 100 से गुणा करके, आधुनिक IQ परीक्षणों के लिए कच्चे स्कोर को 100 के औसत से और मानक विचलन 15 के साथ सामान्य वितरण में बदला जाता है।

 

IQ Full Form in Hindi |  IQ का फुल फॉर्म क्या होता है?

इसके परिणाम लगभग दो-तिहाई जनसंख्या IQ -85 और IQ -115 के बीच और लगभग 2.5 प्रतिशत प्रत्येक 130 के ऊपर और 70 के नीचे स्कोर करती है। बुद्धि परीक्षणों में जो अंक हमें प्राप्त होते है उससे अनुमान लगाया जाता है कि किसकी कितनी बुद्धि तेज़ है !

IQ माता-पिता की सामाजिक और आर्थिक स्थिति को प्रसवकालीन वातावरण को,मृत्यु दर को जोड़ता है ! IQ का पता काफी समय पहले से किया जा रहा है !

IQ Full Form = Intelligence-Quotient

IQ का उपयोग Educational Placements,मानवबुद्धि की उन्नति,विकलांग लोगो का आकलन अवं नौकरी आदि में किया जाता है ! पहले कुछ स्कूल स्टूडेण्ट की भर्ती के लिए उनका intelligence test IQ स्तर प्राप्त करने के लिए करते थे ! इससे पता लगता था कि विद्यार्थी कक्षा में प्रवेश के लिए पूरी तरह से सक्षम है या नहीं।कई आबादी वाले क्षेत्र में साइकोमेट्रिक इंटेलिजेंस के वितरण और अन्य लोगो के बीच के संबंधों का अध्ययन करने में होता है।

RAW Full Form in Hindi TCS Full Form in Hindi
ED Full Form in Hindi LPG Full Form in Hindi

लोगो के व्यवहार को देखते हुए उनके दैनिक जीवन में IQ परीक्षण तैयार करने से पहले भी वर्गीक्त करने का प्रयास किया ! पहले के समय में जो वयक्ति कम बुद्धि के होते थे उनके साथ गलत व्यवहार किया जाता था ! उसे मारा पिता जाता था। ज्यादा दिक्कत होने पर रस्सी से बांधकर रखा जाता था। तरह तरह की भ्रान्ति लोगो के दिमाग में आता था की कही भुत प्रेत हो सकता है। उसे उतरने के लिए मारा पीटा जाता था।

उस समय हमारा विज्ञान भी इतना प्रोग्रेस नहीं था। इसलिए कोई समझ नहीं पता था की दरअसल है क्या, सबसे पहले मंदबुद्धि बालक के समस्या के लिए फ़्रांस सरकार ने उसके योग्यताओं के अध्ययन एवं मापन करने हेतु बहुत सारे विधियों का प्रयोग किया। और अपने यहाँ तरह तरह के प्रयोग किया। और मनबुद्धि बालकों के उपचार के लिए कई स्कूलों की स्थापना किया गया।

जहा पर IQ Full Form मंदबुद्धि बालको को परीक्षण होता था। उसके बुद्धि के विकास के लिए तरह तरह के प्रयोग शुरू किया गया। विशेष तरह के प्रशिक्षण दिया जाने लगा। धीरे धीरे इस प्रकार की कोशिश और भी देशो में होने लगा था। लेकिन सर्वप्रथम इस कार्य का श्रेय फ़्रांस द्वारा ही किया गया था। फिर बाद में फ्रांस द्वारा मंदबुद्धि बालको के शिक्षा एवं उसका सही परिक्षण के लिए एक समिति का निर्माण किया गया था। इस समिति का अध्यक्ष वहाँ के महान मनोवैज्ञानिक Alfred Binet को बनाया गया था। Alfred Binet को बुद्धि के मापन का जनक कहा जाता है।

EMI Full Form in Hindi
IFSC Full Form in Hindi
NEFT Full Form in Hindi

When were intelligence tests first developed in India? भारत में सर्वप्रथम बुद्धि परीक्षणों का विकास कब हुआ था ?

भारत में सर्वप्रथम बुद्धि परीक्षण कॉलेज वर्ष 1922 में प्राचार्य डॉ. सी. एच. राइस के द्वारा लाहौर में बनाया गया था। इसका नाम Hindustan Binet Paromance Point Scale दिया गया था। डॉ. लज्जाशंकर झा ने 10 से 18 वर्ष के बच्चों के लिए समूह बुद्धि परीक्षण का खाका तैयार किया था।

11 वर्ष और उससे अधिक आयु के बच्चों के लिए 1943 में सोहनलाल ने क समूह बुद्धि परीक्षण तैयार किया था। 1951 में पंजाब यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर डॉ. जलोटा ने मास टेस्ट का खाका तैयार किया था। 1955 में एक प्रोफेसर सी एम भाटिया ने एक प्रदर्शन इंटेलिजेंस टेस्ट बनाया था। जिसे भाटिया बैटरी के नाम से जानते है। धीरे धीरे कई मनोवैज्ञानिकों ने मिलकर मौखिक और अशाब्दिक और व्यक्तिगत और समूह बुद्धि परीक्षण बनाए गए।

बुद्धिपरीक्षणो के लिए निर्माण के लिए निम्न मनोवैज्ञानिक डॉ. बी. अले। शाह, बॉम्बे के डॉ. सेठना, एन.एन. शुक्ला, ए.जे. अहमदाबाद के जोशी और दवे, डॉ. देसाई, बूच और भट्ट का नाम प्रमुख है। इसके अलावा और भी कई मनोवैज्ञानिक है जिसका काफी योगदान रहा है।

How many types of Intelligence tests are there? बुद्धि परीक्षण कितने प्रकार के है ?

बुद्धि परीक्षण दो प्रकार से किया जाता है।

» Personal Intelligence Test – व्यक्तिगत बुद्धि परीक्षण
» Group Intelligence Tests – सामूहिक बुद्धि परीक्षण

Personal Intelligence Test – व्यक्तिगत बुद्धि परीक्षण:-
व्यक्तिगत बुद्धि परीक्षण के लिए डेढ़ वर्ष से पांच छः वर्ष की आयु के बच्चों पर किया जाता है।

Group Intelligence Tests – सामूहिक बुद्धि परीक्षण:-
सामूहिक बुद्धि परीक्षण सेना में भर्ती हेतु व्यक्तियों का सही ढ़ंग से चुनाव करने के लिए किया जाता है। एक साथ अधिक लोगो का बुद्धि परीक्षण करने के लिए सामूहिक बुद्धि परिक्षण का निर्माण किया गया था।
समय समय पर अपने अवस्यक्ता अनुसार बुद्धि परीक्षण का निर्माण होते रहा है।

Economics General Knowledge in Hindi
Modern History of India in Hindi GK

What is the role of intelligence test in education? शिक्षा में बुद्धि परीक्षण की भूमिका क्या है ?

शिक्षा के क्षेत्र में बुद्धि परीक्षण (IQ Full Form) की भूमिका निम्न है।

» बालकों के वर्गीकरण हेतु
» मंदबुद्धि बालकों की जानकारी के लिए
» शैक्षिक मार्गदर्शन हेतु
» व्यक्तित्व की जानकारी हेतु
» व्यक्तिगत विभिन्नताओं के लिए
» व्यवसायिक मार्गदर्शन के लिए
» व्यक्तित्व की जानकारी के लिए
» प्रतिभाशाली बालकों की पहचान के लिए
इत्यादि बहुत सारे क्षेत्र में बुद्धि परीक्षण की भूमिका होती है।

अपने IQ को जांचने के लिए IQ Test वेबसाइट पर जाये।

FAQ…

IQ Full Form क्या होता है ?

IQ का फुल फॉर्म – Intelligence Quotient होता है ! IQ को हिंदी में बुद्धि लब्धि कहते है।

IQ क्या है ?

IQ किसी भी व्यक्ति की मानसिक आयु को विभाजित करके व्यक्ति की कालानुक्रमिक आयु और बुद्धि परीक्षण को प्रशासित करके प्राप्त होता है !

भारत में सर्वप्रथम बुद्धि परीक्षणों का विकास कब हुआ था ?

भारत में सर्वप्रथम बुद्धि परीक्षण कॉलेज वर्ष 1922 में प्राचार्य डॉ. सी. एच. राइस के द्वारा लाहौर में बनाया गया था। इसका नाम Hindustan Binet Paromance Point Scale दिया गया था। डॉ. लज्जाशंकर झा ने 10 से 18 वर्ष के बच्चों के लिए समूह बुद्धि परीक्षण का खाका तैयार किया था।

बुद्धि परीक्षण कितने प्रकार के है ?

बुद्धि परीक्षण दो प्रकार से किया जाता है।
Personal Intelligence Test – व्यक्तिगत बुद्धि परीक्षण
Group Intelligence Tests – सामूहिक बुद्धि परीक्षण